तीन गुना फीस वृद्धि से नाराज अभिभावकों ने घेरा स्कूल

उत्तर प्रदेश कानपुर राज्य शहर
सच दिखाने की जिद...

जन एक्सप्रेस संवाददाता
कानपुर नगर। जिले में निजी स्कूलों द्वारा लगातार अभिभावकों से फीस बढ़ोतरी के लिए दबाव बनाया जा रहा है जिसके चलते शहर के कई स्कूल ने अचानक फीस को दोगुनी से तीन गुना तक बढ़ा दिया है। कोरोना काल के ठीक एक साल बाद स्कूलों के फीस बढ़ाकर अभिभावकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
ताजा मामला कानपुर के पीरोड स्थित प्रभात शिशु शिक्षा निकेतन बाल समाज स्कूल का देखने को मिला। जहां पर फीस जमा न होने से बच्चों को निकालने और प्रबंधक के अडिय़ल रवैये पर अभिभावक भडक़ गए। देखते-देखते स्कूल में हंगामा शुरू हो गया। इससे वहां मौजूद प्रबंधन में अफरा- तफरी मच गई। हंगामा की सूचना पर पहुची पुलिस ने सभी अभिभावकों को समझा-बुझाकर शांत कराया। आपको बता दें कि, कोरोना काल में फीस में छूट देने की मांग काफी समय से उठाई जाती रही है। जब आज बच्चे स्कूल पहुचे तो पता चला कि पहले प्रभात शिशु शिक्षा निकेतन बाल समाज स्कूल की यूपी बोर्ड की मान्यता थी, अब स्कूल को यूपी और सीबीएससी दोनों की मान्यता हो गई है। इसके चलते स्कूल प्रबंधन ने तीन गुना फीस में बढ़ोतरी की है। जिसको लेकर अभिभावकों में काफी नाराजगी जताई। अभिभावकों का कहना है कोविड के चलते हम लोग फीस जमा कर रहे थे, एकदम से तीन गुना फीस बढ़ाने पर हम लोगों की जेब पर भी भार पड़ेगा। हम लोगों ने फीस को कम करने के लिए स्कूल प्रबंधक से मांग कर रहे है लेकिन स्कूल प्रबंधन हमारी बातों को मानने को तैयार नहीं है। अभिभावकों ने बताया कि, पहले फीस 650 रुपये थी, फिर 850 रुपये हुई और आज अचानक 1600 रुपये फीस हो गई। स्कूल प्रशासन अभिभावकों की किसी भी बात को सुनने को तैयार नहीं है। इसको लेकर अभिभावक अपनी मांगों को लेकर अड़ गए और स्कूल का घेराव कर हंगामा किया। इस दौरान अभिभावकों एवं बच्चों द्वारा जोरदार नारे लगाए गए। बाप लड़े थे गोरों से, बच्चे लड़ेंगे चोरों से…। शिक्षा है व्यापार नहीं, यह लूट हमें स्वीकार नहीं। फीस गले की फांसी है, जनता भूखी प्यासी है…। नारेबाजी करते हुए अभिभावकों ने रोड जाम कर दी। हंगामे व रोड जाम की सूचना मिलते ही मौके पर बजरिया थाना पुलिस पहुची। पुलिस ने दोनों पक्षों से बात कर मामले को शांत कराया।
यहां पर अखिल भारतीय पीडि़त अभिभावक महासंघ के अध्यक्ष राकेश मिश्रा ने बताया कि अचानक स्कूल प्रबंधन द्वारा फीस बढ़ाना अभिभावकों व बच्चों के साथ तानाशाही किया जा रहा है, यह बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जब तक अध्यापक व अभिभावक समिति की बैठक बुलाकर फीस वृद्धि पर चर्चा व सहमति नहीं बनती तब तक ऐसा करना गलत होगा। इस सम्बंध में जब प्रशासनिक अफसरों से बात की गई तो घबराकर स्कूल के प्रबंधन द्वारा आश्वासन दिया गया कि जो फीस वृद्धि की गई है उस पर वह पुनर्विचार करेंगे। यहां पर आयुष पाठक, सरवन शुक्ला, बरखा आहूजा, प्रतिभा शुक्ला, नवीन अग्रवाल, आशीष सोनी, अनुज शुक्ला, विकास पांडे, संतोष कुमार सेठ, अनिल श्रीवास्तव, रितु, उर्मिला वर्मा, लता सिंह, पूनम, सुनैना श्रीवास्तव, पूजा मिश्रा, मीरा, मदन निगम, रजनी शुक्ला, प्रीति वर्मा, अमित मिश्रा आदि मौजूद रहेे।


सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *