Sunday, November 27, 2022
spot_imgspot_img
Homeशहरकानपुररेमीडिसीवर इंजेक्शन की कालाबाजारी, हैलट के नर्सिंग स्टाप समेत ४ गिरफ्तार

रेमीडिसीवर इंजेक्शन की कालाबाजारी, हैलट के नर्सिंग स्टाप समेत ४ गिरफ्तार

जन एक्सप्रेस संवाददाता
कानपुर नगर। शहर में क्राइम ब्रांच की टीम को सूचना मिली थी कि रेमीडिसीवर इंजेक्शन कुछ व्यक्तियों द्वारा ऊंचे दाम पर गलत तरीके से बेचा जा रहा है। प्रकरण को संज्ञान लेकर क्राइम ब्रांच की टीम द्वारा कार्यवाही करते हुए ग्राहक बनकर आयुष कमल से संपर्क किया तो रेमीडिसीवर इंजेक्शन 37000 रु में तय हुआ विक्रम जो कि हैलट हॉस्पिटल में नर्सिंग स्टाफ के तौर पर काम करता था हैलट हॉस्पिटल में मरीजों को दिए जाने वाले रेमीडिसीवर इंजेक्शन में से आधे इंजेक्शन की चोरी कर ब्लैक मार्केट में बेचता था। प्रकरण में इंजेक्शन की डिलीवरी के लिए चेतांशु चौहान अंशुल शर्मा व आयुष कमल के साथ इंजेक्शन की डिलीवरी के लिए आए पुलिस पूछताछ में आयुष ने बताया कि मैं कस्टमर ढूंढ़ कर लाता था और अंशुल शर्मा से संपर्क करता था अंशुल शर्मा ने बताया कि मैं रामकली हॉस्पिटल में ओपीडी देखता हूं मुझे इंजेक्शन चेतांशू चौहान के माध्यम से मिलता था चेतांशू चौहान ने बताया कि मुझे इंजेक्शन विक्रम कुमार जो कि हैलट अस्पताल में नर्सिंग स्टाफ का काम करता है वह उपलब्ध कराता है विक्रम कुमार उपरोक्त को पूछताछ के लिए लाया गया। विक्रम कुमार ने बताया कि हैलट अस्पताल में नर्सिंग स्टाफ का काम करता हूं मरीजों के लिए आने वाले रेमीडिसीवर इंजेक्शन मैसेज में से चोरी करके बेच देता था। चेतांशु चौहान को 10000 रुपए में बेच देता हूं चेतांशु चौहान अंशुल को 20,000 रुपए में बेच देता है अंशुल आयुष को 30,000 रुपए में बेच देता है व आयुष कस्टमर को 35,000 से 40,000 रुपए में बेचता था। स्वरूप नगर थाने में शातिर अपराधियों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर उन्हें जेल भेजने की कार्रवाई की गई है।

 

RELATED ARTICLES

Cricket live Update

- Advertisment -spot_imgspot_img
- Advertisment -spot_imgspot_img

Most Popular