Sunday, December 4, 2022
spot_imgspot_img
Homeशहरकानपुर‘हे अच्युत, हे अनन्त, हे गोविंद’ का जाप करें कोरोना रोगी

‘हे अच्युत, हे अनन्त, हे गोविंद’ का जाप करें कोरोना रोगी

जन एक्सप्रेस संवाददाता
कानपुर नगर। सनातन मंदिर चेतना सोसाइटी के सदस्य अजय मिश्र ने बताया कि पुरी पीठ शंकराचार्य पूज्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती ने अपने लखनऊ प्रवास के समय कोरोना की विभीषिका से बचने के लिए अपने उद्बबोधन में बताया था कि यदि कोरोना मरीज अथवा उसके प्रियजन पूरे श्रद्धा एवं विश्वास के साथ हे अच्युत! हे अनन्त! हे गोविंद! का जाप एवं संकीर्तन करे तो निश्चित रूप से शीघ्र ही मरीज को लाभ मिलेगा।
‘हे का करुण स्वर में उच्चारण करने में हृदय पर चोट लगती है इसलिए हृदय की कोशिकाएं सक्रिय होकर ऑक्सीजन लेवल तुरंत सही होता है।’ पूज्य शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती जी ने बताया कि यह विष्णु अवतार भगवान धन्वंतरि का वचन है। हे अच्युत! हे अनन्त! हे गोविन्द ! का जाप करें। कोरोना रोगी एवं उनके परिवार के लिए पुरी शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती जी ने यह समाधान दिया है। कृपया इस को उपयोग में लाकर लाभ प्राप्त कर सभी को बताये। अजय मिश्र ने बताया कि इस मंत्र का प्रयोग एवं लाभ बहुत से लोग प्राप्त कर रहे हैं। उनके मित्र पंकज द्विवेदी के बड़े भाई जो हैलट के कोविड वार्ड में भर्ती है एवं अन्य कई लोगों को ने इसके प्रभाव को महसूस करके बताया कि इस मंत्र के प्रयोग से उनकी भाई का आक्सीजन लेबल एक ही दिन में 75 से 92 हो गया है। उन्हें पूरी उम्मीद है कि जल्द ही व स्वस्थ हो जाएंगे।सनातन मंदिर चेतना सोसाइटी के सचिव अजय मिश्र ने बताया कि उचित चिकित्सा के साथ ईश्वर पर अटूट विश्वास करें, घबराएं नहीं, प्राण तो ईश्वर के अधीन हैं उनकी ही शरणागत लेनी चाहिए। अजय मिश्र ने यह भी कहा कि ऑक्सीजन के प्राकृतिक स्रोत पेड़ों की हमें रक्षा करनी चाहिए जो मरीज स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर चुके हो वह अपने जीवन में कम से कम पांच वृक्षों को लगाये एवं उनकी देखभाल करें। साथ ही साथ जो मरीज इस विभीषिका में शरीर छोड़ चुके हो उनके प्रिय परिजन उनकी याद में 5 वृक्ष लगाकर उनकी देखभाल करें जिससे उनकी आगे आने वाली पीढिय़ों को ऑक्सीजन की कमी ना हो ।
यदि आज हम इस महामारी में भी नहीं जागे तो आगे आने वाला कल निश्चित रूप से ऑक्सीजन की भयानक कमी की अवस्था में कष्ट पूर्ण होगा।

RELATED ARTICLES

Cricket live Update

- Advertisment -spot_imgspot_img
- Advertisment -spot_imgspot_img

Most Popular