Monday, January 30, 2023
spot_imgspot_img
Homeशहरकानपुरकोरोना की चपेट में आया मेडिकल कालेज, प्राचार्य सहित 31 पॉजिटिव

कोरोना की चपेट में आया मेडिकल कालेज, प्राचार्य सहित 31 पॉजिटिव

कानपुर नगर। वैश्विक महामारी की दूसरी लहर के चपेट में देश का अधिकांश भाग आ रहा है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित केजीएमयू के बाद कानपुर मेडिकल कालेज में भी कोरोना की चपेट में आ गया है। यहां के प्राचार्य सहित 31 लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं। लेकिन प्राचार्य और दो प्रोफसरों ने जीवटता के साथ एहतियात बरतते हुए काम करने की ठान ली। प्राचार्य का मानना है कि अगर ऐसी परिस्थिति में खुद काम नहीं करेंगे तो स्टॉफ का मनोबल गिरेगा। इससे आने वाले मरीजों व तीमारदारों में भी हीनभावना पैदा होगी, जबकि कोरोना में एहतियात बरतने के साथ इलाज से इससे बाहर हुआ जा सकता है। उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मरीजों को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर रविवार से ही चार दिनी कोरोना टीका उत्सव मनाया जा रहा है। इस उत्सव के जरिये अधिक से अधिक लोगों को कोरोना टीका लगवाना है, ताकि संक्रमण के फैलाव पर रोक लगाई जा सके। इसी बीच किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी लखनऊ के बाद कानपुर मेडिकल कालेज में भी कोरोना तेजी से पांव पसार लिया। रविवार को आई जांच रिपोर्ट में प्राचार्य प्रो. आरबी कमल, उप प्राचार्य प्रो. रिचा गिरी, मेडिकल सुप्रीटेंडेंट प्रो. प्रेम सिंह के पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही हैलट अस्पताल के आधा दर्जन जूनियर डॉक्टर, 10 एमबीबीएस और करीब 15 स्टाफ भी चपेट में आ गए हैं। उनमें से कुछ को कोविड हॉस्पिटल तो कुछ होम आइसोलेशन में रखा गया है। इन सबके बीच रिपोर्ट का पता चलने के बाद प्रो. आरबी कमल, प्रो. रिचा गिरी, प्रो. प्रेम सिंह ने जीवटता दिखाई। सभी एहतियात बरतते हुए काम कर रहे हैं। प्रो. आरबी कमल ने कहा कि मेडिकल कॉलेज में स्टाफ की समस्या पहले से ही है। अगर स्वयं आराम करने लगे तो अन्य स्टाफ का मनोबल टूटेगा। एहतियात के साथ काम कर रहे हैं। प्रो. प्रेम सिंह के मुताबिक वह पीपीई किट पहनकर काम कर रहे हैं। अन्य लोगों को दूर रहने के लिए कह दिया है।

RELATED ARTICLES

Cricket live Update

- Advertisment -spot_imgspot_img
- Advertisment -spot_imgspot_img

Most Popular