आईजी ने किया निरीक्षण, कल्याणपुर थाने में हुआ फर्जीवाड़ा आया सामने

उत्तर प्रदेश कानपुर राज्य शहर
सच दिखाने की जिद...

जन एक्सप्रेस/प्रशान्त कुमार
कानपुर नगर। शहर के कल्याणपुर थाने में बीते दिन शनिवार को समाधान दिवस के मौके पर अचानक आई जी मोहित अग्रवाल के आने की सूचना पर थाने में हडक़ंप मच गया। इस दौरान आईजी ने कल्याणपुर थाने में किए गए एक गंभीर फर्जीवाड़े को भी पकड़ा।
बीते दिन शनिवार को समाधान के मौके पर आईजी मोहित अग्रवाल लगभग 12 बजे कल्याणपुर थाने में अचानक निरीक्षण करने पहुंच गए। सबसे पहले आई जी ने थाने में बने महिला हेल्पडेस्क का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान आईजी ने वहां रखे रजिस्टर को चेक किया तो रजिस्टर में पीडि़ता द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर रजिस्टर्ड नंबर के आगे समझौता लिखा था। रजिस्टर में कुल 8 से 10 शिकायतें रजिस्टर पर चढ़ी थीं जब आईजी ने रजिस्टर पर लिखे नंबर पर फोन मिला कर पीडि़ता से पुलिस कार्रवाई के बारे में पूछा तो सभी के पसीने छूट गए पहली पीडि़ता ने बताया कि उन्होंने कोई समझौता नहीं किया है ना पुलिस से समझौते को लेकर कोई बात हुई उन्होंने तहरीर दी है और उस पर वह कार्रवाई चाहती है उसके बाद दूसरी पीडि़ता से एसपी पश्चिम डॉक्टर अनिल कुमार ने बात की तो पीडि़ता ने बताया कि उसने करीब एक सप्ताह पहले तहरीर दी थी पुलिस लगातार समझौते का दबाव बना रही है। पुलिस ने उसके प्रार्थना पत्र पर कोई कार्यवाही नहीं की । वहीं रजिस्टर में लिखे हर नंबर पर पीडि़तों से आईजी और एसपी पश्चिम ने बात की किसी भी पीडि़ता ने यह नहीं कहा कि उन्होंने समझौता किया है। थाना प्रभारी के इस कार्य से आईजी मोहित अग्रवाल का पारा चढ़ गया और थाना प्रभारी जनार्दन प्रताप सहित महिला हेल्प डेस्क का कार्य देख रही महिला सिपाही को जमकर फटकार लगाई और दोबारा इस तरह की गलती करने पर सख्त कार्रवाई की बात कही। उसके बाद आईजी मोहित अग्रवाल ने थाने के कार्यालय में गए और वहां तैनात मुंशी से बात की इसके बाद आईजी ने थाने के हवालात का भी निरीक्षण किया और बन्द लोगों से भी बात की। आईजी मोहित अग्रवाल ने बताया कि जो झूठी रिपोर्ट लगाई गई है। उस संबंध में एसपी पश्चिम को जांच सौंपी गई है जांच रिपोर्ट के आधार पर कार्यवाही की जाएगी।

 

 

 


सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *