Sunday, December 4, 2022
spot_imgspot_img
Homeदेशभारत ने कतर के समक्ष उठाया जाकिर नाइक का मुद्दा

भारत ने कतर के समक्ष उठाया जाकिर नाइक का मुद्दा

आगाज के साथ ही भारत में एक विवाद भी शुरू हो गया। इस्लामिक धर्मगुरु जाकिर नाइक भी कतर पहुंचा था। रिपोर्ट में दावा किया गया कि कतर ने ही फीफा विश्वकप के दौरान मजहबी तकरीरे करने के लिए जाकिर नाइक को बुलाया था। जाकिर नाइक पर फिलहाल मनी लांड्रिंग, भड़काऊ भाषण और आतंकी से जुड़ी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप है। इसी को लेकर भारत में राजनीति भी शुरू हो गई। अब भारत ने यह पूरा मामला कतर के समक्ष उठाया है। कतर में इसको लेकर सफाई दी है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि जाकिर नाइक के वांछित होने का मुद्दा कतर के साथ उठाया गया है।अरिंदम बागची ने आगे कहा कि कतर ने भारत को बताया है कि जाकिर नाइक को फीफा विश्व कप 2022 में भाग लेने के लिए कोई निमंत्रण नहीं दिया गया था। इससे पहले केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि भारत इस मामले पर संबंधित अधिकारियों के सामने “कड़े शब्दों” में अपने विचार प्रकट करेगा। जब यह पूछा गया कि क्या भारत विरोध दर्ज कराएगा, तो उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास है कि भारत इस मामले पर विरोध दर्ज कराएगा। मामले से संबंधित सवाल का जवाब देते हुए पुरी ने कहा, “उसके (नाइक के) बारे में हमारे (भारत के) अपने विचार हैं और मुझे विश्वास है कि संबंधित अधिकारियों के सामने कड़ा विरोध दर्ज कराया जाएगा।

PM मोदी G20 बाली शिखर सम्मेलन में विभिन्न अवसरों पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन से मिले। इस सम्मेलन में एक संक्षिप्त द्विपक्षीय और एक त्रिपक्षीय बैठक थी। सभी से अपील है कि PM मोदी-राष्ट्रपति बाइडेन की मुलाकात पर गलत सोशल मीडिया पोस्ट को महत्व न दें। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने यह भी कहा कि उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ की कतर यात्रा छोटी थी।

RELATED ARTICLES

Cricket live Update

- Advertisment -spot_imgspot_img
- Advertisment -spot_imgspot_img

Most Popular