क्षेत्र में होली के रंग में रंगे लोग, होती रहीं फागें

उत्तर प्रदेश हमीरपुर
सच दिखाने की जिद...

मौदहा / हमीरपुर। कस्बे सहित क्षेत्र में रंगों का त्योहार होली की धूम मची रही।जहां लोगों ने होली के त्योहार का आनंद लिया तो वहीं जगह जगह मुस्तैद पुलिस ने भी लोगों का उत्साह वर्धन किया और एसडीएम अजीत परेश, क्षेत्राधिकारी सौम्या पाण्डेय, कोतवाली प्रभारी तारा सिंह पटेल सहित अन्य एस.आई.पुलिस बल के साथ कस्बे सहित क्षेत्र में गश्त करते रहे।
कस्बे में एक दर्जन स्थानों पर होलिका दहन किया गया जबकि कस्बे के पुरानी पुलिस चौकी के निकट स्थित होलिका दहन स्थल सहित अन्य स्थानों पर एसडीएम राजेश कुमार चौरसिया और क्षेत्राधिकारी सौम्या पाण्डेय होलिका दहन के समय मौजूद रहे।और धार्मिक अनुष्ठान और विधि विधान के साथ होलिका दहन सम्पन्न हुआ।
होलिका दहन के बाद कस्बे सहित क्षेत्र में होली के रंग में लोग रंगे नजर आये।और जमकर रंग खेला गया।सबसे बड़ी बात यह है कि इस बार होली के मौके पर सभी ने कोरोना की गाईडलाईन का पालन करते हुए होली खेली।और लोगों ने अपने बच्चों को होली के मौके पर रंग खेलने से दूर रखा।जबकि जगह पर युवाओं की टोलियां होली के रंगों में रंगी नजर आईं।इसके साथ ही बुण्देलखण्ड की परम्परा को निभाते हुए जगह जगह पर फाग गाते नजर आए।फाग बुण्देलखण्ड की सबसे मशहूर साहित्यिक विघा मानी जाती है जिसके आरंभ का श्रेय बुण्देली के आदि कवि ईसुरी को जाता है।बुण्देली में ईसुरी ने सबसे पहले फाग का आरंभ किया जो चार कडियों का होता है इसलिए इसे चौकडिया फाग कहते हैं।
“हमपै बैरिन रंग न डारो, घरै न पीतम प्यारो, सूनी फाग लगत बालम बिन” फाग साहित्य में अधिकांश श्रंगार रस और राधा कृष्ण और गोपियों की होली का वर्णन मिलता है।और यह फाल्गुन मास में गाई जाती है।जबकि कस्बे के थाना चौराहा, नेशनल चौराहा, गुडाही बाजार, मलीकुआं चौराहा, तहसील रोड सहित अन्य स्थानों पर जमकर होली खेली गई।और लोग डीजे की धुन में थिरकते नजर आए।

सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *