रेलवे सतर्क, महाराष्ट्र के बाद दिल्ली में तैनात किए 50 आइसोलेशन कोच

देश
सच दिखाने की जिद...

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए भारतीय रेलवे ने दिल्ली सरकार के आग्रह पर फिर से तैयारी  शुरू कर दी है। रेलवे ने शकूर बस्ती रेलवे स्टेशन पर 50 आइसोलेशन कोच तैनात किये हैं और सोमवार तक 25 कोच आनंद विहार रेलवे स्टेशन पर भी तैनात कर दिए जाएंगे।
रेलवे ने यह कदम दिल्ली सरकार की मांग पर उठाया है। असल में दिल्ली सरकार ने रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष सुनीत शर्मा को पत्र लिखकर राजधानी में बढ़ते कोरोना मामलों के मद्देनजर आनंद विहार तथा शकूर बस्ती में लॉजिस्टिकल सपोर्ट, मेडिकल स्टाफ तथा ऑक्सीजन सुविधाओं सहित पांच हजार बिस्तर मांगे हैं।
उल्लेखनीय है कि उत्‍तर रेलवे ने पिछले साल भी दिल्ली सरकार की मांग पर कोविड केयर सेंटर के रूप में 8,048 बिस्तरों के बराबर 503 आईसोलेशन कोच उपलब्‍ध कराये थे।
भारतीय रेलवे के पास वर्तमान में कोरोना कोच के रूप में परिवर्तित 4,002 कोच हैं। दिल्ली सरकार से पहले महाराष्ट्र सरकार भी रेलवे से 100 आइसोलेशन कोच की मांग कर चुकी है। महाराष्ट्र के नंदुरबार स्टेशन पर पश्चिम रेलवे 21 आइसोलेशन कोच मुहैया करा चुका है। इनमें रविवार को छह मरीज को भर्ती कर दिया गए है।
उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने रविवार को एक वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कोरोना रोगियों के लिए तैयार इन आइसोलेशन कोचों को आठ कैबिनों में बांटकर कुल 16 बिस्तरो की व्यवस्था की गई है। हर कोच में दो भारतीय शैली के और एक पाश्चात्य शैली सहित तीन शौचालय हैं। इसके अलावा एक स्नानागार भी है, जिसमें हाथ का फुहारा, बाल्टी, मग और बैठने की व्यवस्था है।
आगे उन्होंने कहा कि डिब्बों में मच्छरदानी, बायो-टॉयलेट, पावर सॉकेट और ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध हैं। हमारे नेटवर्क में 463 कोच हैं। शकूर बस्ती में पचास बेड लगाए गए हैं और 25 को सोमवार तक आनंद विहार में रखा जाएगा। हमने ऑक्सीजन सिलेंडर खरीदे हैं और इस तरह के दो सिलेंडर प्रत्येक कोच में रखे जाएंगे।
गंगल ने कहा, “अगर ज्यादा जरूरत है, तो राज्य सरकार को इसकी व्यवस्था करनी होगी।” रेलवे के आइसोलेशन कोच में गर्मियों के मद्देनजर तापमान को नियंत्रित रखने के लिए गंगल ने कहा कि आनंद विहार और शकूरबस्ती दोनों ही रेलवे स्टेशनों पर आइसोलेशन कोचों को छायादार स्थान पर खड़ा किया जाएगा।

सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *