गोष्ठी के माध्यम से अभिभावकों से ऑनलाइन शिक्षा पर लिए गए सुझाव

उत्तर प्रदेश
सच दिखाने की जिद...

बलरामपुर । जनपद बलरामपुर जिला मुख्यालय के पायनियर पब्लिक स्कूल एंड कॉलेज सभागार में विद्यालय के प्रधानाचार्य उप प्रधानाचार्य विभिन्न विषयों के अध्यापक अध्यापकों सहित के साथ अभिभावकों की बैठक आयोजित की गई बैठक में विद्यालय के प्रबंधक निर्देशक प्रबंध निदेशक डॉ एमपी तिवारी ने कोविड-19 के दौरान कोरोना काल में जूनियर कक्षाओं के लिए काफी समय तक बंद चले क्लास के स्थान पर गत वर्ष प्रदान किए गए ऑनलाइन शिक्षा पर अभिभावकों के विचार आमंत्रित किया । अभिभावकों ने ऑनलाइन शिक्षा के पक्ष विपक्ष में अपने विचार व्यक्त किए ।
                   जानकारी के अनुसार पायनियर स्कूल सभागार में आयोजित अभिभावक बैठक में गत वर्ष लॉकडाउन तथा उसके बाद जूनियर तक बंद कक्षाओं के स्थान पर ऑनलाइन शिक्षा प्रदान की गई थी । प्रबंध निदेशक डॉ एम पी तिवारी ने ऑनलाइन शिक्षा के विषय में अभिभावकों की राय जानने का प्रयास किया, जिस पर अभिभावकों ने अपने रखें । अधिकांश लोगों का मानना था कि ऑनलाइन शिक्षा क्लास की शिक्षा  की तुलना में कम प्रभावशाली है । ऑनलाइन शिक्षा में अध्यापकों तथा अभिभावक की छात्रों को आवश्यकता होती है। अभिभावकों  का यह भी मानना था कि यदि आवश्यक हुआ तो कोरोना महामारी को देखते हुए वे फिर विद्यालय प्रबंधन का पूरा सहयोग करेंगे, परंतु बच्चों की पढ़ाई प्रभावित नहीं होनी चाहिए । प्रबंध निदेशक डॉ तिवारी ने सहयोग के लिए सभी अभिभावकों का आभार व्यक्त किया तथा भरोसा दिलाया कि उनकी तरफ से किसी प्रकार की कोई कमी नहीं रखी जाएगी । सभा में मौजूद लोगों का स्वागत विद्यालय की बालिकाओं द्वारा किया गया । बैठक में विचार व्यक्त करने वाले अभिभावकों में महमूदुल हक, साधना पांडे, शैल सिंह, संवेदना सिंह, रवी कृष्ण मिश्रा, सय्यद इबरार रिजवी तथा अजय सिंह प्रमुख है । बैठक के दौरान विद्यालय के सह निदेशक आकाश तिवारी, अध्यक्ष डॉ पीएन तिवारी, कोषाध्यक्ष मीता तिवारी, उप प्रधानाचार्य प्रमोद कुमार श्रीवास्तव, संतोष श्रीवास्तव व शिखा श्रीवास्तव के अलावा अध्यापक राघवेंद्र त्रिपाठी, एके तिवारी, टी एन शुक्ला, एके शुक्ला, डीडी पांडे, आरपी यादव, मेराज अहमद, राजमणि, मनोज शुक्ला, राजीव श्रीवास्तव तथा अध्यापिका  पूनम चौहान, रूबी त्रिपाठी, लता श्रीवास्तव, किरण मिश्रा, नीलम श्रीवास्तव, बंदिता शुक्ला, दीक्षा श्रीवास्तव व नेहा श्रीवास्तव सहित बड़ी संख्या में अभिभावक, विद्यालय के शिक्षणेत्तर कर्मी व छात्र-छात्राएं मौजूद थे ।

सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *