Sunday, November 27, 2022
spot_imgspot_img
Homeशहरकानपुर‘जब तिल-तिल कर मर रही थी जनता’ तब कहां थे सीएमओ?

‘जब तिल-तिल कर मर रही थी जनता’ तब कहां थे सीएमओ?

जिला जज के इलाज में लापरवाही बरतने पर खुद को बचाने के लिए सीएमओ ने नारायणा मेडिकल हॉस्पिटल के प्रबंध तंत्र पर दर्ज कराया मुकदमा
जन एक्सप्रेस संवाददाता
कानपुर नगर। बुधवार को शहर में कोविड-19 संक्रमित मरीजों कि सही से देखभाल न करने लापरवाही बरतने के लिए नारायणा मेडिकल हॉस्पिटल के विरुद्ध स्वास्थ्य विभाग के मुखिया मुख्य चिकित्सा अधिकारी कानपुर नगर की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है।
विदित हो कि कोरोना से संक्रमित मरीजों के उचित इलाज के लिए नारायणा मेडिकल हॉस्पिटल को भी कोविड-19 हास्पिटल जिला प्रशासन द्वारा घोषित किया गया है। वर्तमान समय में कोरोना से संक्रमित सैकड़ों मरीजों का इलाज इस हॉस्पिटल में किया जा रहा है। परंतु लगातार इस हॉस्पिटल के प्रबंध तंत्र द्वारा मरीजों के इलाज में लापरवाही बरती जा रही थी परंतु साधारण शहर की जनता तिल तिल कर मरती रही लेकिन शहर के स्वास्थ्य विभाग के मुखिया डॉ. अनिल मिश्र की आंखो का पानी मर चुका था उनके द्वारा कोई भी कार्यवाही नहीं की गई। लेकिन कहते हैं भगवान के घर देर है अंधेर नहीं बीते दिन बुधवार को मुख्य चिकित्सा अधिकारी को ना चाहते हुए भी नारायणा मेडिकल हॉस्पिटल के प्रबंध तंत्र के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराना पड़ा क्योंकि मामला कानपुर कचहरी के जिला जज से जुड़ा हुआ था। मुख्य चिकित्सा अधिकारी के द्वारा दर्ज कराए गए मुकदमे के लिए दी गई तहरीर के अनुसार 18 अप्रैल को मुख्य चिकित्सा अधिकारी कानपुर नगर डॉ. अनिल मिश्रा न्यायिक जिला जज को उचित इलाज दिलाने के लिए नारायणा मेडिकल हॉस्पिटल लेकर गए थे। उनका कहना है कि जब वह जिला जज को लेकर लिफ्ट के सहारे ऊपर जा रहे थे उस समय लिफ्ट खराब हो गई इसके साथ ही उन्होंने देखा कि वहां पर कोई डॉक्टर इलाज के लिए मौजूद नहीं है। खास बात यह है कि कानपुर नगर के न्यायिक जिला जज को उचित इलाज समय से देने के लिए कोई विशेषज्ञ मौजूद नहीं था।

स्वास्थ्य अधिकारी से बोला नारायणा का मालिक- मुझे भिजवा दो जेल
मुख्य चिकित्सा अधिकारी कानपुर नगर द्वारा दी गई तहरीर में स्पष्ट लिखा है कि जब उन्होंने जिला जज सहित सभी लोगों का इलाज सुचारू रूप से कराने के लिए नारायणा मेडिकल हॉस्पिटल के मालिक अमित नारायण से बात की तो उन्होंने धमकाने वाले अंदाज में कह डाला की आप मुझे मुकदमा दर्ज करवा करके जेल भिजवा दो जिसके बाद मुख्य चिकित्सा अधिकारी कानपुर नगर की तहरीर पर थाना पनकी में मुकदमा दर्ज किया गया है।
जब जिला जज के इलाज में लापरवाही तो साधारण जनता का क्या हाल होगा!
जन एक्सप्रेस सरकार व जिला प्रशासन की आंख खोलना चाहता है और बताना चाहता है कि जब न्यायिक जिला जज का इलाज यहां के अस्पताल सही सुचारू रूप से नहीं कर रहे हैं तो सोचिए उन मजलूम साधारण नागरिकों का क्या हाल होगा जिनके घर में कोई एक छोटी सी एप्रोच तक नहीं होगी स्पष्ट है किस शहर में सरकार व जिला प्रशासन की बद इंतजामी के कारण लोग तिल तिल कल मरने को मजबूर हैं।

RELATED ARTICLES

Cricket live Update

- Advertisment -spot_imgspot_img
- Advertisment -spot_imgspot_img

Most Popular