गैंगवार की व्यूह रचना रचने वाले सब्लू बदमाश व उसके गुर्गों पर क्यों मेहरबान है कानपुर पुलिस?

उत्तर प्रदेश कानपुर राज्य शहर
सच दिखाने की जिद...

जन एक्सप्रेस संवाददाता
कानपुर नगर। शहर के अतिसंवेदनशील माने जाने वाले थाना बेकनगंज, थाना चमनगंज, थाना अनवरगंज क्षेत्र में शातिर अपराधियों के गुटों के बीच गैंगवार कराने की व्यू रचना करने वाले सब्लू बदमाश समेत उसके सभी गुर्गों पर कानपुर पुलिस मेहरबान दिख रही है। शहर की कानपुर कमिश्नरेट पुलिस ने बीते दिनों शातिर अपराधियों के खिलाफ जबर्दस्त अभियान चलाते हुए उन्हें जेल भेजने की कार्रवाई की है। परंतु गैंगवार को हवा देने वाले व थाना चमनगंज में घटित गोलीकांड के दौरान मौजूद सब्लू बदमाश सहित उसके सभी साथियों को कानपुर पुलिस द्वारा गिरफ्तार न किए जाने से सवालिया निशान खड़े हो रहे हैं। ज्ञातव्य हो कि लगभग छह माह से इन तीनों थाना क्षेत्रों में किसी न किसी दिन शातिर अपराधियों के गुटों के बीच गोलीकांड की चर्चाएं आम होती थीं। खास बात यह है कि इन अपराधियों का रसूख इतना बड़ा है कि यह आपस में समझौता भी कर लेते हैं और गोली कांड की सारी कहानी क्षेत्र में ही दफन करके मौज से अपराध करने में लग जाते थे।

रैनी व सूफियान के बीच हुए गोलीकांड ने गैंगवार की दी थी दस्तक
विदित हो कि बीते दिनों बेकनगंज व चमन गंज थाना क्षेत्र में सुभान रैनी व सुफियान कनखड़े नामक उभरते हुए अपराध जगत के दो गुटों के बीच एक दूसरे के ऊपर गोली चलाने का मामला सामने आया था। इस मामले में खास बात यह थी कि इन अपराधियों ने पत्रकार को भी निशाना बना डाला था। यह तो किस्मत अच्छी थी कि पत्रकार बच गया। सुभान रैनी ने सुफियान कनखड़े व उसके साथियों पर गोली मारकर घायल करने का आरोप लगाते हुए थाना बेकनगंज में मुक़दमा दर्ज कराया था। वहीं दूसरी ओर सुभान रैनी के द्वारा थाना चमनगंज क्षेत्र में जाकर रात्रि समय में अपने साथियों संग गोली चलाने का वीडियो भी वायरल हुआ है जिसके बाद एक पीडि़त महिला की तहरीर पर मुकदमा थाना चमनगंज में दर्ज किया गया है। इस गैंगवार के मामले में कानपुर पुलिस कई रंगबाज अपराधियों को जेल का रास्ता दिखा चुकी है। परंतु गैंगवार की व्यू रचना करने वाले व सूत्रों की मानें तो जिस समय सुभान ने गोली कांड को अंजाम दिया था उस समय सब्लू बदमाश सहित आसिफ रैनी एवं अन्य लोग भी वहां पर मौजूद थे यह सभी अभी भी कानपुर पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं।

 

 

 

 


सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *