लाखों की लागत से बने सामुदायिक शौचालय में ‘प्रधान जी का ताला’

उत्तर प्रदेश कानपुर राज्य शहर
सच दिखाने की जिद...

जन एक्सप्रेस संवाददाता
बिल्हौर । स्वच्छ भारत अभियान के दृष्टिगत मोदी सरकार ने शहरो के साथ ग्रामीण क्षेत्रों को भी स्वच्छ भारत अभियान से जोडऩे की सार्थक पहल की जिसके चलते ग्राम सभाओं में सफाई कर्मियों की नियुक्ति के साथ ही सामुदायिक शौचालय के निर्माण का कार्य करवाया गया था। जिसमें सरकार की नेक मंशा निहित थी पंचायत राज अधिकारी के मुताबिक ग्रामीण क्षेत्रो में हर घर शौचालय के निर्माण के साथ-साथ सामुदायिक शौचालय का निर्माण कराने के पीछे ग्रामीण अंचल को खुले में शौच से मुक्त करने की शासन की मंशा निहित है परंतु कुछ ग्राम सभाओं में इस सरकारी मंशा को जनप्रतिनिधि व सरकारी अमला पलीता लगाते दिखाई देता है जी हां हम बात कर रहे हैं बिल्हौर तहसील की पूरा ग्राम सभा की जहां शासन द्वारा लाखों की लागत से सामुदायिक शौचालय का निर्माण करवाया गया। हालांकि शुरुवाती दौर में इसके स्थान को लेकर विरोध के स्वर भी उठे परंतु प्रशासनिक सक्रियता के चलते इसका निर्माण प्रारम्भ हो गया नवंबर के महीने में यह सामुदायिक शौचालय बनकर तैयार भी हो गया। स्थानीय दुकानदारों व आस-पास के ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले ग्रामीणों को भरोसा था कि समुदायिक शौचालय बन जाने से उन्हें निवृत्त होने के लिये परेशान नहीं होना पड़ेगा। परंतु इन सभी उत्साहित लोगों को उस समय झटका लगा जब शौचालय के निर्माण के उपरांत इसके दरवाजे पर ताले डाल दिये गये जिससे ग्रामीणों व आस पास के ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले ग्रामीण मायूस हैं। जन एक्सप्रेस संवाददाता द्वारा ग्रामीणों से बात करने पर उनमें मायूसी साफ दिखी उन्होंने बताया कि पिछले कई वर्षों से रोड के किनारे पर व जिस जगह सामुदायिक शौचालय बना है उस जगह पर लघुशंका दुकानदार करते थे। सामुदायिक शौचालय बनने से दुकानदार यह सोचकर खुश थे कि वर्षो से चली आ रही इस समस्या का निदान हो गया परंतु ताला पड़ जाने से दुकानदारों में मायूसी है । क्षेत्रीय लोगों की मानें तो निवर्तमान ग्राम प्रधान जी का ताला पड़ा हुआ है तो सवाल ये उठते हैं कि जब 25 दिसंबर से ग्राम प्रधानों का कार्यकाल समाप्त कर एडीओ साहब को प्रशासक नियुक्त किया गया तो फिर आमजनमानस की सुविधा से जुड़े शौचालय पर प्रधान जी का ताला क्यों ? पूरे मामले पर खंड विकास अधिकारी बिल्हौर दिनकर विद्यार्थी से सम्पर्क नहीं हो सका वहीं मुख्य विकास अधिकारी महोदय ने बताया कि ताला क्यों और किसने डाला है पूरे प्रकरण के बाबत जांच करवा कार्यवाही हेतु आश्वस्त किया।

 

 

 

 


सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *