उत्तराखंड में टूटे ग्लेशियर से कानपुर में नहीं कोई नुकसान

उत्तर प्रदेश कानपुर राज्य शहर
सच दिखाने की जिद...

जन एक्सप्रेस/कानपुर नगर। उत्तराखंड में टूटे ग्लेशियर के बाद हुए अलर्ट के बाद कानपुर में बैराज प्रशासन ने अपनी तैयारी कर ली है। वहीं अधिशासी अभियंता बैराज ने बताया कि अभी सब उनके कंट्रोल में है और लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है।
चमोली के रेणी गांव से गुजरने वाली अलकनन्दा नदी में टूटे ग्लेशियर ने वहां तबाही मचा दी है। जिसके बाद उत्तर प्रदेश में भी हाई अलर्ट कर दिया गया है। वहीं अधिशासी अभियंता बैराज निर्माण खण्ड दो जेपी सिंह ने बताया कि जैसा कि अलकनन्दा नदी में एक ग्लेशियर टूट कर गिरा है। जिसमें उसमें निर्मित एक बांध टूट गया है बांध टूटने से गंगा नदी का जल स्तर बढ़ गया है और वह बढ़ा हुआ जलस्तर हरिद्वार नरोरा होते हुए कानपुर की ओर बढ़ रहा है। जिसकी क्षमता लगभग एक लाख क्यूसिक है और यह 8 से 10 दिन के भीतर कानपुर नगर में आ सकता है। उन्होंने बताया कि लोगों को बहुत ज्यादा पैनिक होने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि यह हमारे कंट्रोल में रहेगा। उन्होंने बताया कि उनकी अधिकारियों से समय-समय पर बात हो रही है जिसकी रिपोर्ट जिलाधिकारी को हर 24 घण्टे में अवगत कराया जा रहा है।


सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *