जनप्रतिनिधियों को नहीं दिख रही ‘सडक़ की बदहाली’

उत्तर प्रदेश कानपुर राज्य शहर
सच दिखाने की जिद...

जन एक्सप्रेस संवाददाता
शुक्लागंज, उन्नाव। हाइवे स्थित त्रिभुवन खेड़ा गांव से लेकर बंदीपुरवा हड़हा मार्ग के दोनों ओर लगभग एक सैकड़ा गांवों का आवागमन है। खेतों में सब्जी की खेती कर कानपुर साइकिल और लोडर से लाद कर लोग मंडी ले जाते हैं। जगह-जगह सडक़ क्षतिग्रस्त हो कर पगडंडी की तरह तब्दील हो गई है। इस सडक से जुडने वाले रामगंज, मंशा खेड़ा, कुटेवा, डकारी, लखापुर, लोचन खेड़ा, पपरिया, रमचरामऊ, लगभग एक सैकड़ा गांव के हजारों लोग इस मार्ग से प्रतिदिन आते जाते हैं। सडक की मरम्मत न होने से विभाग और सरकार को कोस रहे हैं। यह मार्ग सदर विधान सभा और भगवंत नगर विधान सभा के अंतर्गत आती है। किसी भी जन प्रतिनिधि ने इस सडक के बारे में ध्यान नहीं दिया है। वहीं लोगों को घरों से निकलने में उन्हें कीचड़ का सामना करना पड़ रहा है। सडक़ के दोनों ओर दुकानें हैं। दुकानों में कीचड़ के कारण ग्राहक नहीं पहुंच पा रहे हैं। यहां के दुकानदार मदन लाल रावत, बिंदा पाल, दुलारे निषाद, दद्दन सिंह, बच्चू लाल, अनीस, हाजी कल्लू, समीर, लाला, मेवालाल, श्री राम, बेचे वर्मा, लल्लन, राजू निषाद, राकेश आदि ने बताया कि इस मार्ग पर बरसात के अलावा ऐसे भी जलभराव बना रहता है।


सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *