Sunday, November 27, 2022
spot_imgspot_img
Homeशहरकानपुरसिरफिरे दामाद ने पेट्रोल डाल पत्नी समेत ससुरालियों को किया आग के...

सिरफिरे दामाद ने पेट्रोल डाल पत्नी समेत ससुरालियों को किया आग के हवाले

जन एक्सप्रेस/गौरव मिश्रा
कानपुर नगर। शहर के जूही थाना क्षेत्र में एक सनकी पति ने अपनी पत्नी के द्वारा उसके साथ जाने से इनकार करने पर जहां एक ओर घर के सभी सदस्यों को यहां तक कि एक दूध मुंहे बच्चे को भी नहीं छोड़ते हुए आग के हवाले कर दिया गया। तो वहीं दूसरी ओर आरोपी के गिरफ्तार होने के बाद गिरफ्तार करने वाले पुलिसकर्मी आरोपी के साथ सेल्फी लेते हुए दिखाई दिए। ऐसा प्रतीत होता है कि इतनी बड़ी हृदय विदारक घटना होने के बाद भी पुलिस कर्मियों के लिए यह महज एक सेल्फी वाला मामला था।

विदित हो कि पत्नी के साथ न चलने पर दुधमुहें बच्चे समेत ससुरालियों को पेट्रोल डालकर एक सनकी ने आग के हवाले कर दिया। आग से घिरे ससुरालियों की चीखें सुनकर मोहल्ले वालों की नींद खुल गई और उन्हें बाहर निकाला गया। इस बीच गनीमत यह रही कि डेढ़ माह का दुधमुहां बच्चा आग की लपटों में झुलसने से बच गया। वहीं अन्य परिवार के छह झुलसे लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना पर पहुंची पुलिस की चार टीमों ने घटना के बाद फरार हरदोई निवासी आरोपी दामाद की तलाश शुरु कर दी ।

क्षेत्रीय लोगों से मिली जानकारी के अनुसार जूही थानाक्षेत्र के रत्तूपुरवा इलाके में स्थित बीबी का हाता में रहने वाली मनीषा की शादी साढ़े तीन साल पूर्व हरदोई जनपद के बिलग्राम थाना अंतर्गत इटौली गांव निवासी चालक मुकेश कुमार से हुई थी। डेढ़ माह पूर्व दोनों के बेटा हुआ। बच्चे के जन्म के बाद पति से अनबन के चलते पत्नी दुधमुहें बेटे को लेकर एक माह पूर्व अपने मायके कानपुर आ गई। यहां पर मनीषा के पिता हीरालाल पल्लेदारी कर परिवार का पालन पोषण करते हैं। गुरुवार को पत्नी मनीषा से मुकेश ने मोबाइल पर बात कर मायके से लौटने की बात कही। कॉल के दौरान उसका पत्नी से इस बात को लेकर विवाद हो गया और उसने पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी देते हुए कॉल काट दी। इसकी शिकायत ससुर हीरालाल ने स्थानीय चौकी में जाकर कर दी थी। लेकिन धमकी की शिकायत को पुलिस ने गंभीरता से नहीं लिया।

इधर, सिरफिरा दामाद शुक्रवार की भोर कानपुर जूही स्थित ससुराल पहुचा और दरवाजा न खोलने पर उसने बाहर से कुंडी बंद कर दी। इसके बाद पेट्रोल डालकर आग लगा दी। पेट्रोल के चलते आग से पूरा कमरा घिर गया और उसमें दुधमुहां बच्चा समेत परिवार के साथ सात लोग फंसकर चीखने लगे। घटना के बाद दामाद मौके से भाग निकला। इस बीच आवाज सुनकर हीरालाल का बगल में रहने वाले भाई कमलेश कुमार व अन्य लोग पहुंचे और किसी तरह से आग की लपटों को बुझाते हुए पूरे परिवार को बाहर निकाला। आग से दुधमुहें बच्चे को छोडक़र सभी छह लोग झुलस गए। उन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस मामले में पुलिस अधीक्षक दक्षिण दीपक भूकर ने बताया कि आग से हीरालाल, पत्नी शिव कुमारी, शादीशुदा बेटी मनीषा, राधा, वंदना, उमा व मनीषा का डेढ़ माह का बेटा झुलसे हैं। बच्चा स्वस्थ है। अन्य सभी परिवार के सदस्यों को चेहरे व अन्य जगहों पर झुलसी अवस्था में हैं, उनका उपचार चल रहा है। आरोपी दामाद मुकेश की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की चार टीमें लगाई गई थी उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

 

 

 

 

RELATED ARTICLES

Cricket live Update

- Advertisment -spot_imgspot_img
- Advertisment -spot_imgspot_img

Most Popular