Sunday, December 4, 2022
spot_imgspot_img
Homeशहरकानपुरशहर में पहले दिन छह सौ स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगी कोविड वैक्सीन

शहर में पहले दिन छह सौ स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगी कोविड वैक्सीन

शहर में चार और ग्रामीण क्षेत्र में दो केन्द्रों पर होगा टीकाकरण
जन एक्सप्रेस संवाददाता
कानपुर नगर। शहर में कोरोना वैक्सीनेशन का फाइनल प्लान तैयार हो गया है और शनिवार को जनपद के छह अस्पतालों में वैक्सीनेशन प्रोग्राम की लांचिंग होगी। इसके लिए शुक्रवार देर रात तक कांशीराम ट्रामा सेंटर पर बने वैक्सीन स्टोरेज सेंटर से सभी सेंटरों पर सीरम इंस्टीटयूट की कोविडशील्ड वैक्सीन पहुंच जाएगी। पहले दिन औद्योगिक नगरी कानपुर में 600 स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण किया जाएगा। तैयारियों को लेकर शुक्रवार को दिनभर स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन व पुलिस विभाग के अधिकारी मंथन करते रहे।
वैश्विक महामारी कोरोना की रोकथाम के लिए केन्द्र सरकार ने बीते दिनों दो प्रकार की वैक्सीन को लगाने की मंजूरी दे दी थी। इसके बाद से कानपुरवासी वैक्सीन के टीका लगाने को लेकर इंतजार कर रहे थे और स्वास्थ्य विभाग ने ड्राई रन भी पूरा कर लिया।
बुधवार को मुम्बई के पुणे से एयर प्लेन के जरिये सीरम इंस्टीटयूट की कोविडशील्ड वैक्सीन विशेष सुरक्षा के साथ पहुंच गयी। पहली खेप में कानपुर नगर जनपद को 2270 वैक्सीन के वायल मिले जो 22700 लोगों में लगेंगे। जिलाधिकारी आलोक तिवारी ने शुक्रवार को बताया कि वैक्सीन टीकाकरण अभियान की शुरुआत शनिवार से होगी और सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं। पहले दिन जनपद के शहरी क्षेत्र के चार और ग्रामीण क्षेत्र के दो सेंटरों पर 600 लोगों को टीका लगाया जाएगा। बताया कि पहले दिन प्रत्येक केन्द्र पर 100 स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन का टीकाकरण होगा।

आकस्मिक स्थिति से निपटने को तैयार रहेंगे चिकित्सक
मुख्य चिकित्साधिकारी डा. अनिल कुमार मिश्र ने बताया कि शनिवार को जनपद के कांशीराम संयुक्त चिकित्सालय, एएचएम डफरिन चिकित्सालय, यूएचएम चिकित्सालय (उर्सला), जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज, सामु. स्वा. केन्द्र सरसौल, सामु. स्वा. केन्द्र बिधनू में कोविड-19 वैक्सीनेशन का प्रारंभ होगा। इन सभी सेंटरों में प्रथम चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को टीकाकरण किया जाएगा। प्रत्येक केन्द्र में 100 लोगों को सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक वैक्सीन लगाई जाएगी। जनपद के लिए 22700 डोज है, जिनमें शनिवार को 600 डोज लगेंगे। प्रत्येक केन्द्र पर किसी भी आकस्मिक स्थिति से निपटने के लिए एईएफआई सेंटर बनाये गए हैं, जहां पर चिकित्सक उपलब्ध रहेंगे।

 

 

 

RELATED ARTICLES

Cricket live Update

- Advertisment -spot_imgspot_img
- Advertisment -spot_imgspot_img

Most Popular