करोड़ों की आस्था व भावनाओं पर कुठाराघात

देश
सच दिखाने की जिद...

अमेठी| श्रीमत परमहंस आश्रम टीकरमाफी,अमेठी उत्तर प्रदेश की पवित्र पावन भूमि पर 18जनववरी 2021की रात्रि में आराध्य देव स्वामी परमहंस जी महाराज की समाधि में चोरी हो गई।यह करोड़ों आस्थावान भक्तों की भावनाओं पर कुठाराघात है। प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री से तथा पुलिस महानिदेशक सहित मंडलायुक्त, जिलाधिकारी,पुलिस अधीक्षक,सबसे आपेक्षा है कि मामले की गंभीरता से जांच कराकर खुलासा करें ,क्योंकि यह आश्रम की प्रतिष्ठा का और भक्तों की आस्था से जुडा है। देश विदेश में पूज्य स्वामी जी को जानने मानने वाले करोड़ों लोग हैं। आश्रम के उत्तराधिकारी महंत स्वामी कृष्णानंद सरस्वती महाराज ने दूरभाष पर बताया कि प्रातः लगभग 3ः30 बजे के बाद ऐसा हादसा हुआ है। इससे पूर्व विचारणीय प्रश्न यह है कि पुलिस चैकी टीकरमाफी आश्रम में बनी हुई है।जो पूर्व में हुई समाधि की चोरी के बाद पूज्य संत मौनी जी महाराज के कई दिनों के आमरण अनशन के बाद वर्तमान शासन ने बनाई थी।लेकिन आज का दुखद समाचार सिद्ध यह करता है कि  कहीं ना कहीं से आश्रम की प्रतिष्ठा खराब करने के लिए कुछ शाजिशन काम किए जा रहे हैं। यह समाज को और भक्तों को अत्यंत दुख देने वाला है। आश्रम के कृष्णानंद महाराज जी ने बताया की लगभग 1 सप्ताह के अंदर यह दूसरी घटना है। इसके पूर्व स्वामी जी के गोशाले से दूध देने वाली कीमती गायों की चोरी हो गई थी। फिर भी कोई पकड़ा नहीं गया इससे लगता है,की अपराधियों का मनोबल बढ़ता जा रहा है।यदि तत्काल कार्यवाही नहीं हुई,तो बड़ा हादसा हो सकता है।पूज्य मौनी जी महाराज ने क्षेत्र समाज से सामाजिक लोगों, राजनीतिक प्रतिनिधियों,पत्रकार बंधुओं,अधिवक्ताओं से तथा आस्थावान भक्तों से इस घटना का  खुलासा कराने में सहयोग करने की मांग की है। श्रीमद् परमहंस आश्रम के अराध्य बाबूगंज सगरा श्री 1008 शिव बालयोगी मौनी महराज जी माघ मेला तीर्थराज प्रयाग में विगत 8 दिनों से देवी देवताओं के अपमान पर अनशन कर रहे हैं। इस घटना से आश्रम के संत महात्मा पुजारी श्री महंत विद्यार्थी सेवक सब अत्यंत दुखी हैं।स्वामी दिनेशानंद सरस्वती महराज ने लोगों से अपील की है कि सिद्धपीठ टीकरमाफी आश्रम में चोरी की घटना घटित होना यह दुखद बात है।आश्रम की आस्था के साथ खिलवाड़ कत्तई वरर्दाश्त नही करेगे प्रशासन – शासन को कडी कार्यवाही करने की बात कही है।

सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *