कानपुर समेत यूपी के कई जिलों में फरवरी तक रहेगी गलन

उत्तर प्रदेश कानपुर राज्य शहर
सच दिखाने की जिद...

जन एक्सप्रेस संवाददाता
कानपुर नगर। नये साल के पहले माह के आखिरी समय तक भीषण सर्द होना तो लाजिमी है, पर इस बार सर्दी का यह क्रम फरवरी माह तक रहने वाली है। ऐसा इसलिए होगा क्योंकि पश्चिमी विक्षोभों के बीच लंबा अंतराल बना हुआ है। इसके कारण उत्तर दिशा से चलने वाली हवाएं तापमान को लंबे समय तक तापमान को नीचे लाने में अपनी भूमिका निभाती रहेंगी। ऐसे में लोगों को फरवरी माह के अंत तक सर्दी से बचने के लिए तैयार रहना होगा।
देश में मौसम का मूड बिगाडऩे वाले सिस्टम एक बार फिर से विकसित हो गए हैं। इनकी वजह से मैदानी क्षेत्रों में हल्की बारिश के आसार बन गए हैं। बदली छाई रह सकती है। कानपुर और आसपास के जिलों में हल्के बादल होने का अनुमान है। शीत लहर चलना जारी रहेगी। अधिकतम और न्यूनतम तापमान में उतार चढ़ाव होगा। कोहरे का असर कुछ कम हो जाएगा। हवा सामान्य से तेज रफ्तार से चलेगी। मौसम विभाग के मुताबिक इस बार सर्दी कुछ लंबी खिंच सकती है क्योंकि पश्चिमी विक्षोभ फरवरी के महीने में भी आते रहेंगे। इस बार दिसंबर से ही देखा गया कि पश्चिमी विक्षोभों के बीच में काफी लंबा अंतराल बना हुआ है। यह स्थिति फरवरी के अंत तक बने रहने की संभावना नजर आ रही है। जिसके कारण उत्तर भारत के मैदानी क्षेत्रों के अलावा, गंगा के मैदानी भागों
तथा मध्य भारत में कभी कड़ाके की सर्दी तो कभी सामान्य सर्दी का दौर आता रहेगा।
चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डा. एसएन सुनील पांडेय ने शनिवार को बताया कि उत्तर में लद्दाख के आसपास पहाड़ी इलाकों में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। इसके साथ ही दक्षिणी पूर्वी राजस्थान पर चक्रवाती हवा का क्षेत्र बना हुआ है, जबकि दक्षिणी ओडिशा के करीब विपरीत हवा का क्षेत्र विकसित है। तीसरा चक्रवाती सिस्टम बांग्लादेश के पास पूर्वी हिस्से में बना है। ऐसी परिस्थितियों के बीच उत्तर पूर्वी हवाओं के चलने से मैदानी इलाकों में गलन बरकरार है और यह स्थिति फरवरी माह के अंत तक कभी कम तो कभी अधिक रहने की संभावना है। अगले तीन दिनों के बाद से दिन में धूप होने से अधिकतम तापमान बढ़ जाएगा, लेकिन रात में
कड़ाके की ठंड रहेगी। मौसम विभाग के अनुसार चार फरवरी से कानपुर-बुंदेलखंड क्षेत्र के अलावा प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में बारिश का मौसम भी बन सकता है। इस बीच तेज हवा भी चल सकती है। सुबह-शाम होने वाले कोहरे का असर खत्म हो जाएगा।
रात का तापमान फिर से पांच डिग्री से तीन डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है। यूपी का औसतन अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 18 और 8 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।

 

 

 


सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *