कानपुर: गोल्डी मसाले का ‘वरिष्ठ बिक्री अधिकारी सम्मेलन’ संपन्न

उत्तर प्रदेश कानपुर राज्य शहर
सच दिखाने की जिद...

जन एक्सप्रेस संवाददाता
कानपुर नगर। देश एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर खाद्य मसालों के सरताज गोल्डी उद्योग समूह द्वारा कम्पनी के सम्पूर्ण भारत के वरिष्ठ बिक्री अधिकारियों का सम्मेलन आयोजन विजय विला तिलक नगर में हर्ष और उल्लास के साथ सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि विधान परिषद सदस्य सलिल विश्नोई ने गणेश पूजन व दीप प्रसारण करके किया। मुख्य अतिथि ने गोल्डी समूह को इस उपलब्धि पर शुभकामनाएं देते हुये बताया कि लॉकडाउन मेंं सभी जब घरों में कैद थे फिर भी गोल्डी समूह ने अपने उत्पादों की कमी नहीं होने दी, गांव गली में सभी कुछ मिलता रहा जिसमें विक्रेताओं की अहम भूमिका रही कि किसी भी वस्तु की कालाबाजारी नहीं होने दी।
कार्यक्रम के आरम्भ में गोल्डी के 40 वर्षों के सफर पर डाक्यूमेंट्री फिल्म दिखाते हुये, इस सफर को आकाश गोयनका ने बतााया कि गोल्डी की प्रगति में हमारे विक्रेताओं, हलवाई, कैटर्स आदि सभी का पुरा सहयोग मिला है, तभी गोल्डी ग्रुप के उत्पाद कानपुर से बाहर से निकलकार राष्ट्रीय एवं अंंतराष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाने में सफल रहे हैं।
शुभम गुप्ता ने बताया कम्पनी शीघ्र ही अपनी नई ईकाई से उत्पादन क्षमता को चार गुना करने जा रहा है जिनसे बाजारों में गोल्डी उत्पादों की उपलब्धता को और विस्तार मिलेगा।
सुदीप गोयनका ने कम्पनी की नई बिक्री योजना ‘मनाईये उत्सव हमारे साथ’ लांच किया है। साथ ही वर्तमान मार्केट को ध्यान में रखते हुए कम्पनी ने अपनी मसाले व हींंग की रेंज के साथ-साथ अब सॉस की पूरी रेंज की पैकिंग में अभूतपूर्व परिवान किया है। कार्यक्रम में पधारे देश के गोल्डी वरिष्ठ बिक्री अधिकारियों को उनके लक्ष्य अनुरुप पुरस्कार से सम्मानित किया गया। पूर्व में घोषित गोल्डी जय हो उपहार योजना का लकी ड्रा सभी सम्पन्न हुआ। जिसमें कारेंं, मोटर साइकिलें, विदेश यात्रा, टीवी, फ्रिज, वाशिंग मशीनों सहित 5201 पुरस्कार निकाले। कार्यक्रम में उपस्थित कम्पनी के निदेशक सोम गोयनका, सुरेन्द्र गुप्ता ने बताया कि वर्ष 1980 में स्थापित गोल्डी उद्योग 38 वर्ष के अन्तराल में एक वट वृक्ष रूप में विकसित हुआ, कानपुर से प्रारम्भ होकर आज गोल्डी के उत्पाद सम्पूर्ण भारतवर्ष के साथ-साथ अन्तराष्ट्रीय बाजार में अपनी धाक जमा चुक हैं। समूह को कई बार केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा पुरस्कृत किया जा चुका है। गोल्डी को आईएसओ 22000 2005 का प्रथम प्रमाण पत्र प्राप्त होने का गौरव मिला। समूह ने अपनी शाखाओं का दिल्ता देश के विभिन्न राज्यों में किया है जिसमें प्रमुख रूप से उत्तर प्रदेश, उत्तराखड, दिल्ली, फजाब, हरियाणा माध्यप्रदेश महाराष्ट्र गुजरात कर्नाटक उड़ीसा गोवा छत्तीसगढ़, राजस्थान, बिहार, झारखण्ड, बंगाल, आसाम, जम्मू व कश्मीर व हिमाचल प्रदेश शामिल है।

 

 

 

 

 


सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *