मंडलायुक्त ने मेट्रो निर्माण कार्य का किया निरीक्षण

उत्तर प्रदेश कानपुर राज्य शहर
सच दिखाने की जिद...

जन एक्सप्रेस संवाददाता
कानपुर नगर। कानपुर सिटी के लिए मेट्रो रेल परियोजना सबसे महत्वाकांक्षी और महत्वपूर्ण परियोजना है। यह समय पर पूरा हो और उसका समय पर संचालन, यातायात दबाव को कम करने के लिए महत्वपूर्ण और आवश्यक है। इसके संचालन से शहर में वाहनों के प्रदूषण में भी कमी आएगी। यह बात शुक्रवार को मंडलायुक्त डॉ. राजशेखर ने मेट्रो निर्माण कार्य का निरीक्षण करते हुए उपस्थित अफसरों से कही।
मंडलायुक्त सबसे पहले पॉलिटेक्निक के पास का मेट्रो डीपो/वर्कशाप और आईआईटी कानपुर स्टेशन कार्यस्थल का निरीक्षण किया। इस दौरान परियोजना मेट्रो रेल अरविंद सिंह, आरएम रोडवेज, एआरएम सिटी बस सेवाएं, एफकॉन कंस्ट्रक्शन कंपनी के अधिकारी और कई अन्य मेट्रो अधिकारी उपस्थित रहें। मंडलायुक्त मेट्रो के युद्ध स्तर पर चल रहे काम-काज का निरीक्षण करते हुए अफसरों से कहा कि, मेट्रो ट्रेन का ट्रायल रन नवम्बर 2021 के महीने में किया जाएगा। वाणिज्यिक परिचालन जनवरी 2022 तक शुरू करने की कार्ययोजना है। कानपुर के लिए 40 ट्रेनों का इस्तेमाल किया जाएगा। यह संख्या अगले 20 वर्षों (2042 तक) के लिए पर्याप्त है। अगर आगे अतिरिक्त आवश्यकता हो तो ट्रेनों की संख्या बढ़ाई जा सकती है। प्रशासनिक कार्यालय, नियंत्रण कक्ष, पीडी कार्यालय, कार्यशालाएं, यार्ड आदि निर्माणाधीन हैं और जुलाई 2021 तक निर्माण पूरा हो जाएगा।
साथ ही नई साइट पर अगस्त 2021 से परिचालन शुरू कर दिया जाएगा। अब वर्कशॉप एंड यार्ड में 10 ट्रैक के लिए प्रावधान किया गया है। यदि भविष्य में आवश्यकता होती है, तो साइट पर सात अतिरिक्त ट्रैक का निर्माण किया जा सकता है। मंडलायुक्त ने मेट्रो ट्रेनों के संचालन के दौरान आपातकालीन हैंडलिंग और आपदाओं से निपटने की जानकारी उपस्थित अफसरों व कर्मियों से ली। कमिश्नर ने प्रोजेक्ट डायरेक्टर को निर्देश दिया कि एसओपी के पूर्ण दस्तावेज तैयार करें। उन्होंने मेट्रो रेल और जिला प्रशासन द्वारा सभी इमरजेंसी से संबंधित मुद्दों से निपटने में सूचना और बेहतर समन्वय के लिए अगले तीन महीनों में जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) के समक्ष प्रस्तुत करने को कहा।

 

 

 


सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *