छापेमारी के दौरान कई कीटनाशक दुकानदार शटर गिराकर भागेे

उत्तर प्रदेश कानपुर राज्य शहर
सच दिखाने की जिद...

जन एक्सप्रेस संवाददाता
कानपुर नगर। किसानों को सही खाद और कीटनाशक मिलने के लिए कृषि रक्षा विभाग प्रयासरत है। इसी के चलते विभाग की टीमें बराबर कीटनाशक और खाद बीज भण्डार की दुकानों में छापेमारी कर रही हैं। गुरुवार को भी टीमों ने छापेमारी की तो कई कीटनाशक दुकानदार शटर गिराकर भाग खड़े हुए। जिला कृषि रक्षा अधिकारी आशीष कुमार सिंह ने बताया कि इन सभी दुकानदारों के लाइसेंस रद्द किये जाएंगे।
मौसम के बदलते मिजाज से रवी की फसलों में कीट लग रहा है। फसलों को बचाने के लिए किसान इन दिनों कीटनाशक का प्रयोग कर रहे हैं तो वहीं कीटनाशक दुकानदार किसानों के साथ धोखा कर रहे हैं। इसको लेकर कृषि रक्षा विभाग की टीमें बराबर छापेमारी कर रही हैं। गुरुवार को एडीओ नरेंद्र शुक्ला, वरिष्ठ सहायक देवेंद्र कुशवाहा की टीम ने बिल्हौर, उत्तरीपुरा, ककवन, शिवराजपुर, अलियापुर क्षेत्र में संचालित कीटनाशक विक्रेताओं की दुकानों का निरीक्षण किया।
मेसर्स गणपति खाद बीज भंडार, अमन बीज भण्डार, कृष्णा बीज भंडार, गंगा बीज एजेंसी, अन्नपूर्णा एजेंसी, सतगुरु बीज भंडार से टीम ने कीटनाशी रसायनों के 10 नमूनें लिए। वहीं ऐश बीज भण्डार, कनक बीज भण्डार, यादव बीज भंडार, सुमित बीज भण्डार, किसान बीज भंडार, अवतार बीज भंडार, लक्ष्मी बीज भंडार, जनता बीज भंडार, न्यू किसान खाद भण्डार, श्याम ट्रेडर्स, कृषि सेवा केंद्र ककवन के कीटनाशी विक्रेता दुकान के शटर गिरा कर भाग खड़े हुए। जिला कृषि रक्षा अधिकारी ने बताया कि इन सभी के लाइसेंस निलबंन की कार्यवाही की जाएगी। बताया कि अभिलेख अपूर्ण होने व बिना अनुमति के कीटनाशक रसायनों की बिक्री करने पर लाइसेंस निलंबित कर विधिक कार्यवाही की जाएगी। अवैध रुप से कीटनाशक रसायनों की बिक्री करना दंडनीय अपराध है, जिसके अंतर्गत कारावास व जुर्माना की सजा है। समस्त को चेतावनी दी गयी कि कृषकों को विक्रय कर कैश मेमो देना सुनिश्चित करें। कैश मेमो देना कीटनाशी विक्रेताओं का दायित्व है और उसकी मांग करना किसान का अधिकार है। यही नहीं कीटनाशी विक्रेताओं के यहां छापामार अभियान आगे भी लगातार चलता रहेगा।

 


सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *