बीसीजी का गलत टीका लगने से नवजात शिशु की मौत

उत्तर प्रदेश कानपुर राज्य शहर
सच दिखाने की जिद...

जन एक्सप्रेस/आदित्य श्रीवास्तव
कानपुर नगर। चौबेपुर थाना अंतर्गत चंपतपुर गांव में गलत टीका लगाने से 19 दिन के शिशु की दर्दनाक मौत हो गई। बच्चे की कोई दर्दनाक मौत का जिम्मेदार परिजनों ने एएनएम और आशा बहू को ठहराया है।
प्राप्त जानकारी के मुताबिक बीते दिन बुधवार को बीते चंपतपुर गांव में टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा था जिसके तहत गांव के निवासी गोरेलाल ने अपने नवजात शिशु हर्ष 19 दिन को गांव में आई ए.एन.एम. व आशा बहू गीता के बुलाने पर टीका लगवाने ले गया था। टीका लगने के बाद गोरेलाल अपने पुत्र को लेकर घर आ गया घर आने के 2 घंटे बाद नवजात शिशु का पेट फूलने लगा । जिसे देख परिजन चिंतित हो गए, और तुरंत उसे चौबेपुर सी.एच.सी ले गए जहां से डॉक्टरों ने नवजात को हैलट के लिए रेफर कर दिया। जब शिशु को परिजन हैलेट लेकर पहुंचे वहां के डॉक्टरों ने शिशु की हालत देखकर अपने हाथ खड़े कर लिए और शिशु को वापस भेज दिया । शिशु को परिजन घर ले आए जहां शिशु ने दम तोड़ दिया। उसके बाद ग्रामीणों ने पुलिस को फोन कर सारी घटन के बारे में जानकारी दी। मौके पर पहुंचे चौबेपुर थाना प्रभारी कृष्ण मोहन राय ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया है । परिजनों के अनुसार शिशु की मृत्यु बीसीजी के ओवरडोज देने के कारण हुई है जिसके चलते चौबेपुर सीएससी के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर यशोवर्धन ने बीसीजी के सारे इंजेक्शन सील कर जांच के लिए भेज दिए हैं। अब सवाल यह उठता है कि दवाई में कमी है या फिर स्वास्थ्य विभाग अभी भी कितनी लापरवाही बरत रहा है । जिन स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से बच्चे की जान गई है क्या उनके खिलाफ कोई कार्यवाही होगी?

 


सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *