मैग्नीपुरवा गांव के ग्रामीण तरस रहे विकास कार्यों के लिए

उत्तर प्रदेश कानपुर राज्य शहर
सच दिखाने की जिद...

जन एक्सप्रेस/सनी राव मोघे
कानपुर नगर। चौबेपुर विकासखंड के अंतर्गत आने वाले मालौ ग्राम सभा के मैग्नीपुरवा गांव में रहने वाले ग्रामीण विकास कार्यों के लिए तरस रहे हैं। इस गांव में ग्राम प्रधान द्वारा अभी तक कोई विकास कार्य नहीं कराया गया है। गांव में चारों ओर गंदगी ही गंदगी है स्वच्छता का तो नामोनिशान नहीं है साथ ही ग्राम वासियों को सरकारी योजनाओं का लाभ देने के लिए ग्राम प्रधान द्वारा ग्रामीणों से घूस तक मांगी गई है।
मैग्नीपुरवा गांव में पंचायत भवन व उसके साथ बने शौचालय खंडहर के रूप में परिवर्तित हो चुके हैं लेकिन ग्राम प्रधान कभी देखने तक नहीं आया है और इसके अलावा नए शौचालय बनाए जाने के लिए जो सरकार द्वारा धन आवंटित किया गया है उसे ग्राम प्रधान पंचायत सेक्रेट्री और ब्लॉक के अधिकारियों द्वारा आपस में मिलकर बंदरबांट कर लिया है। गांव की नीलम, सरस्वती, अनारकली, कमला, अभिषेक व विवेक यादव ने बताया कि मैग्नीपुरवा गांव में ग्राम प्रधान ने नालियों का निर्माण कार्य नहीं कराया है जिसकी वजह से नालियों का गंदा पानी सडक़ों के ऊपर से बह रहा है और ग्रामवासी खुद ही नाली की सफाई करते हैं।
गांव में खराब पड़े सरकारी नल की भी मरम्मत नहीं करवाई गई है । ग्राम प्रधान ने ग्राम वासियों के शिकायत करने पर ग्राम प्रधान विधायक के ऊपर सारा इल्जाम डालकर अपने आप को बचाते रहे हैं साथ ही सरकारी आवास या सरकार द्वारा दिए गए शौचालय मैं भी ग्राम प्रधान ने आवास देने के बदले 50,000 तो किसी से 10000 की रिश्वत खा कर आवास दिए हैं जिन्होंने पैसा नहीं दिया उसे प्रधान ने आवास और शौचालय भी नहीं दिया है फिर चाहे वह कोई जरूरतमंद ही क्यों ना हो उससे ग्राम प्रधान कोई फर्क नहीं पड़ता है।
ग्राम प्रधान को सिर्फ अपनी जेब भरने से मतलब है फिर चाहे ग्रामवासी बेघर ही क्यों ना हो जाए उससे प्रधान को कोई मतलब नहीं है।


सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *