दिल्ली/एनसीआर

तमिलनाडु में कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्तः भाजपा

Listen to this article

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने द्रविड मुनेत्र कड़गम (डीएमके) पर निशाना साधते हुए आज कहा कि तमिलनाडु में कानून व्यवस्था अत्यंत लचर है।

भाजपा ने एम के स्टालिन सरकार पर आरोप लगाया कि पिछले एक साल में दलित समुदाय पर अत्याचार बढ़ रहे हैं और राज्य में लोग सुरक्षित नहीं है।

मंगलवार को भाजपा मुख्यालय में आयोजित संयुक्त प्रेसवार्ता में केंद्रीय राज्य मंत्री एल मुरुगन और तमिलनाडु भाजपा के उपाध्यक्ष वीपी दुरईसामी ने कहा कि डीएमके के सत्ता में आने के बाद तमिलनाडु में दलितों के खिलाफ अत्याचार के मामले बढ़े हैं। कुछ दिनों पहले एक राष्ट्रीय पार्टी के राज्य प्रमुख की हत्या कर दी गई।

राज्य में अपराधियों के हौसले इस कदर बुदंल हो गए हैं कि वे दिनदहाड़े ही हत्या कर देते हैं। राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखने में डीएमके सरकार पूरी तरह से विफल है।

एल मुरुगन ने कहा कि राज्य में पिछले एक साल में दलित वर्ग पर अत्याचार के करीब 2000 से अधिक मामले सामने आए हैं। इसके साथ कल्लाकुरिची में अवैध शराब पीने से 60 से अधिक लोगों की मौत हो गई । डीएमके सरकार अवैध शराब की बिक्री पर रोक लगाने में भी पूरी तरह से असफल रही है।

एल मुरुगन ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी के नेता को हाथरस जाने का रास्ता पता है लेकिन तमिलनाडु के कल्लाकुरिचि और चेन्नई का रास्ता नहीं पता है। उन्हें बस राजनीति करनी है। उन्होंने बताया कि तमिलनाडु में दलितों पर लगातार हो रहे अत्याचारों को लेकर प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष वीपी दुरईसामी के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग और राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग से मिलेगा।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button