चार चोरों को पुलिस ने दबोचा, आईएमआई नंबर बदलकर बेचते थे मोबाइल

उत्तर प्रदेश कानपुर राज्य शहर
सच दिखाने की जिद...

जन एक्सप्रेस/पिंटू सिंह
कानपुर नगर। कर्नलगंज पुलिस ने मुखबिर की सटीक सूचना पर चार शातिर मोबाइल चोरों को चुन्नीगंज चौराहे से धर दबोचा। पकड़े गए आरोपियों के पास से चोरी के कई मोबाइल एक लैपटॉप और सीपीयू पुलिस ने बरामद किया है। शातिर चोर के मोबाइल का आईएमआई नंबर बदल कर मोबाइल बेच देते थे। पुलिस को कई दिनों से चोरी के मोबाइल चोरी किये जाने की जानकारी मिल रही थी जिसके बाद पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर चारों आरोपियों को धर दबोचा पुलिस आरोपियों से गहनता से पूछताछ कर अन्य आरोपियों की तलाश मे भी जुटी है।
कर्नलगंज पुलिस बुधवार को देर रात संदिग्ध व्यक्तियों की वाहन चेकिंग अभियान चला रही थी। तभी मुखबिर से कोतवाल देवेंद्र विक्रम को जानकारी मिली कि चार शातिर मोबाइल चोर चोरी के कई मोबाइल बेचने के लिये घूम रहे हैं। जानकारी मिलते ही कर्नलगंज थाना प्रभारी मय फोर्स मौके पर पहुंचे वहीं पुलिस टीम को देखते ही शातिर भागने लगे शक होने पर पुलिस टीम ने चारों चोरों को दौड़ाकर पकड़ लिया वहीं पुलिस ने जब शातिरों की तलाशी की तो उनके पास से चोरी के कई मोबाइल बरामद हो गए शक होने पर पुलिस पूछताछ के लिए सभी को थाने ले गई। पूछताछ में चोरों ने अपना नाम अमर बाथम निवासी नजीराबाद संतोष सैनी निवासी सिविल लाइंस ग्वालटोली तीसरे ने बबलू उर्फ हसमत अली मोहम्मद फैजान उर्फ सीबू निवासी कर्नलगंज बताया। पूछताछ के दौरान पुलिस को चोरों ने बताया कि वे चोरी के मोबाइल का आईएमइआई नंबर निकालकर रिपेयरिंग के लिए मोबाइल का ईएमआई नंबर डाल देते थे। शातिर आईएमआई नंबर बदलने के लिए दिल्ली की एक मार्केट से सॉफ्टवेयर खरीदा था आईएमआई बदलने के बाद वह मोबाइल को कम दामों में बेचते थे। मोबाइल बेचने से मिली रकम को सभी आपस में बांट लेते थे पिछले कई सालों से वह यह काम कर रहे थे । चोरों ने कबूला कि इस काम से अभी तक मोटी रकम कमा चुके हैं। वहीं घटना का खुलासा करते हुए क्षेत्राधिकारी कर्नलगंज दिनेश कुमार शुक्ला ने बताया कि पकड़े गए चारों युवक शातिर चोर हैं
गिरफ्तार करने वाली टीम में उपनिरीक्षक रामसरन मौर्य इसरार अहमद हेड कॉन्स्टेबल प्रदीप कॉन्स्टेबल प्रदीप कुमार राहुल कुमार अजय कुमार गुप्ता सादिक ओमप्रकाश रविन्द्र की अहम भूमिका रही।


सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *