Monday, October 3, 2022
spot_imgspot_img
Homeशिक्षा-रोज़गारविश्वविद्यालय अनुदान आयोग करेगा 3 रिसर्च ग्रांट और 2 फेलोशिप स्कीम लांच

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग करेगा 3 रिसर्च ग्रांट और 2 फेलोशिप स्कीम लांच

नई दिल्ली । शिक्षक दिवस है। समाज और देश के विकास व उत्थान में शिक्षकों के योगदान व सम्मान के लिए हर साल 5 सितंबर को शिक्षक दिवस देश भर में मनाया जाता है। भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एस. राधाकृष्णन की जयंती 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के तौर पर मनाए जाने की शुरूआत वर्ष 1962 में हुई। इस अवसर केंद्र व राज्यों सरकारों के सम्बन्धित विभागों, संगठनों और शिक्षण संस्थानों द्वारा शिक्षकों के सम्मान में और उत्कृष्ट योगदान को पुरस्कृत करने के लिए विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है।देश में उच्च शिक्षा संस्थानों को विनियमित करने वाले विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने शिक्षक दिवस 2022 के मौके पर विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों एवं अन्य उच्च शिक्षा संस्थानों को 5 से 9 सितंबर तक शिक्षक पर्व मनाए जाने की अपील की है। साथ ही, आयोग ने 5 सितंबर 2022 यानि आज 3 रिसर्च ग्रांट और 2 फेलोशिप स्कीम लांच किए जाने की भी घोषणा की है। यूजीसी द्वारा ये पांचों रिसर्च ग्रांट/फेलोशिप स्कीम दोपहर 3 बजे ई-समाधान पोर्टल पर लांच की जाएंगी। आइए इन स्कीम के बारे में जानते हैं:-

3 रिसर्च ग्रांट स्कीम वर्तमान टीचर्स और फैकल्टी मेंबर्स के लिए होंगी। कुल 100 लाभार्थियों को मिलने वाली इन स्कीम में चयनित अभ्यर्थियों को 50 हजार रुपये प्रतिमाह और 50 हजार रुपये प्रति वर्ष आकस्मिक निधि दी जाएगी। इन स्कीम का लाभ लेने के लिए उम्मीदवारों की आयु 67 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए और कम से कम 10 फुल-टाइम स्टूडेंट्स के पीएडी शोध कार्य का सुपरवीजन किया होना चाहिए।
1. सेवारत फैकल्टी मेंबर्स के लिए रिसर्च ग्रांट
इस फेलोशिप का लक्ष्य नियमित रूप से नियुक्त फैकल्टी सदस्यों को अनुसंधान के अवसर प्रदान करना है, और इस पहल से 200 चयनित प्रतिभागियों को सहायता के रूप में 10 लाख रुपये का अनुदान मिलेगा। इस ग्रांट की अवधि अधिकतम 2 वर्ष निर्धारित है।

2. नई भर्ती के लिए डॉ डीएस कोठारी रिसर्च ग्रांट

डीएस कोठारी अनुदान विज्ञान, चिकित्सा और इंजीनियरिंग स्ट्रीम में उम्मीदवारों के लिए पोस्ट-डॉक्टरल फेलोशिप योजना है। यह पहल 132 चयनित उम्मीदवारों को वित्तीय सहायता में 10 लाख रुपये की पेशकश करेगी। इसका भी अवधि अधिकतम 2 वर्ष होगी।

3.सेवानिवृत्त फैकल्टी मेंबर्स के लिए फैलोशिप

अनुसंधान और शिक्षण कार्यक्रमों में सक्रिय रूप से लगे सेवानिवृत्त शिक्षकों को अवसर प्रदान करने के लिए यूजीसी ने यह योजना शुरू की है। इस फेलोशिप में 100 सीटें उपलब्ध हैं

RELATED ARTICLES

Cricket live Update

- Advertisment -spot_imgspot_img
- Advertisment -spot_imgspot_img

Most Popular