कानपुर

हीट स्ट्रोक से बचाव के लिए करें तरल पदार्थों का सेवन : अपर निदेशक

Listen to this article

कानपुर । सूरज की आग उगलती लपटें इस कदर परेशान कर रही हैं कि लोग घरों पर दुबकने को मजबूर हैं। इसके साथ ही वातावरण शुष्क होने से भीषण गर्मी लोगों पर कहर बरपा रही है। ऐसे में हीट इंडेक्स भी बढ़े हुए हैं और हीट स्ट्रोक का खतरा बराबर बढ़ता ही जा रहा है। इस भीषण गर्मी से बचाव के लिए लोगों को तरल पदार्थों का अधिक सेवन करना चाहिए। इसके अलावा कोशिश करें कि दिन में 10 बजे से लेकर तीन बजे तक घरों से बाहर निकलने से बचें। अगर बाहर निकलें भी तो पर्याप्त पानी पीकर निकलें और शरीर ढका होना चाहिये। यह बातें रविवार को चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण कानपुर मंडल की अपर निदेशक डॉ. संजू अग्रवाल ने कही।

उन्होंने बताया कि गर्मी के इस मौसम में हीट स्ट्रोक, डायरिया, उल्टी, पीलिया, टाइफाइड, वायरल फीवर, आंखों का लाल होना, त्वचा में जलन जैसी समस्याएं होती हैं। इसका प्रतिकूल प्रभाव शरीर पर पड़ता है, जो कभी-कभी जानलेवा भी साबित हो सकता है। ऐसे में बचाव बेहद जरुरी है और तेज धूप और गर्म हवा से बचें। बहुत जरूरी हो तभी घर से बाहर निकलें और हल्के रंग के ढीले व सूती कपड़े पहनें। धूप से बचने के लिए गमछा, टोपी, छाता, चश्मा लगाएं और सफर के दौरान अपने साथ पानी व ग्लूकोस जरूर रखें, साथ ही थोड़ी-थोड़ी देर में पानी पीते रहें। इस दौरान शराब, चाय, कॉफी जैसे पेय पदार्थों का इस्तेमाल न करें।लस्सी, नमक, चीनी का घोल, नींबू पानी, छाछ, आम का पना आदि का सेवन करें। दिन में घर को ठंडा रखें और रात में खिड़कियां खुली रखें। तबीयत ठीक न लगने या चक्कर आने पर तुरंत चिकित्सक से संपर्क करें और इलाज कराएं।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button