UK की नई पॉलिसी को जयराम रमेश ने बताया नस्लवादी, भारत में वैक्सीन लगवाए लोगों को भी छूट नहीं

टॉप न्यूज़ देश राजनीति राष्ट्रीय रोचक खबरें विदेश हेल्थ
सच दिखाने की जिद...

ब्रिटेन में नई ट्रेवल गाइडलाइंस जारी की है, नए यात्रा नियमों के मुताबिक अफ्रीकी और दक्षिण अमेरिकी देशों में वैक्सीन का टीका लगवाए लोगों को भी इंग्लैंड आने पर अनिवार्य तौर पर 10 दिनों की क्वारंटीन में रहना होगा और RT-PCR टेस्ट करवाने होंगे। ब्रिटेन ने इस सूची का विस्तार करते हुए उसमें भारत, रूस, सऊदी अरब, तुर्की, जॉर्डन को भी शामिल किया है और कहा है कि यहां टीका लगवाए लोगों को गैर टीकाकृत माना जाएगा और उन्हें इसके तहत नियमों को मानने पड़ेंगे।पूर्व केंद्रीय मंत्री और राज्यसभा सांसद जयराम रमेश ने ब्रिटेन के इस कदम की आलोचना की है और इसे नस्लवादी करार दिया है. उन्होंने कोविड रोधी टीका कोविशील्ड का जिक्र करते हुए कहा कि जब यह टीका मूल रूप से ब्रिटेन में ही विकसित किया गया है और उसे सीरम इन्स्टीट्यूट ने भारत में उत्पादन कर वितरित किया है तो उसे मान्यता क्यों नहीं दी गई।रमेश ने एक ब्रिटिश एविएशन एनालिस्ट एलेक्स मैकेरास के ट्वीट को साझा करते हुए लिखा है,यह बिल्कुल विचित्र है। कोविशील्ड को मूल रूप से यूके में ही विकसित किया गया था और सीरम इंस्टीट्यूट, पुणे ने उसे देश को आपूर्ति की है, इस फैसले से नस्लवाद की बू आती है।


सच दिखाने की जिद...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *