देश

पूर्व मुख्यमंत्री धूमल को हराने की साजिश में भी शामिल थे तीनों विधायक: सुक्खू

Listen to this article

हमीरपुर। मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने हमीरपुर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीदवार डॉ पुष्पिंदर वर्मा के लिए चुनाव प्रचार किया। उन्होंने गसोता, अमनेड़, बजूरी व हमीरपुर टाउन हॉल में वोट की अपील करते हुए कहा कि पूर्व निर्दलीय विधायक आशीष शर्मा को पूरा मान-सम्मान दिया।

सुक्खू ने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली रैली हमीरपुर में की, उनके घर सुबह का नाश्ता किया। उनके काम किए, हमीरपुर बस स्टैंड का निर्माण कार्य शुरू करवाया। हमीरपुर में चीफ इंजीनियर इलेक्ट्रिकल, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का कार्यालय, परिवहन अपीलेट प्राधिकरण का कार्यालय खोला। गांधी चौक का सौंदर्यीकरण किया, हमीरपुर शहर में बिजली की तारों को हटाने के लिए 20 करोड़ रुपये जारी किए। बावजूद इसके आशीष शर्मा बिक गए।

ठाकुर सिंह ने कहा कि हमीरपुर के तीन विधायकों ने हमीरपुर जिला के मुख्यमंत्री और कांग्रेस सरकार को हटाने का षड्यंत्र भाजपा के साथ मिलकर रचा। यह वही लोग हैं, जिन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल को सुजानपुर में हराने की साजिश रची थी। ये लोग हमीरपुर विरोधी हैं, अपने जिला का मुख्यमंत्री नहीं चाहते। दुख होता है जब अपने जिले तीन विधायक गद्दारी करें और अन्य जिलों के विधायक कंधे से कंधा मिलाकर खड़े रहे। वे 34 विधायकों की ताकत से आगे बढ़े और आज हमारे विधायकों की संख्या बढ़कर 38 हो चुकी है। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार अभी साढ़े तीन साल और है। पूर्व निर्दलीय विधायक आशीष शर्मा बहरूपिया हैं, उन्होंने जनता के स्वाभिमान व अपने ईमान को भाजपा की राजनीतिक मंडी में बेचा है। उन्होंने अपने जिले के मुख्यमंत्री को धोखा दिया। वह सच्चा जनसेवक नहीं है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 14 महीने में क्षेत्र का विकास नहीं किया, अपने लिए 140 करोड़ रुपये के ठेके लिए। सारा रिकॉर्ड सार्वजनिक किया जा चुका है, कोई भी आरटीआई लगा कर जान सकता है। वह दानवीर बनने का ढोंग रचते हैं। इस्तीफा देकर दोबारा विधायक का ही चुनाव लड़ रहे हैं, अब वह किस मुंह से वोट मांगने जा रहे हैं। वह कह रहे कि मेरे काम नहीं किए, अब भी वही मुख्यमंत्री व सरकार है, अगर गलती से जीत गए तो फिर किससे काम करवाएंगे। हालांकि, जनता उन्हें दोबारा मौका नहीं देगी, क्योंकि उन्होंने हमीरपुर की जनता के जनादेश का अपमान किया है। इसलिए विधानसभा क्षेत्र की जनता उन्हें सबक सिखाए। धनबल पर जनबल की जीत जरूरी है।

उन्होंने कहा कि क्षेत्र की जनता हमीरपुर जिला के मुख्यमंत्री के लिए वोट करे। डॉ पुष्पिंदर ईमानदार हैं, वह लोगों का दर्द और दवा देना जानते हैं। वह जनसेवा के लिए आपके बीच आए हैं। उनकी जीत हमीरपुर जिले के मुख्यमंत्री को और मजबूत करेगी। छोटे से जिला हमीरपुर को कांग्रेस ने मुख्यमंत्री दिया है। इसलिए डॉक्टर पुष्पिंदर को जिताकर भेजिए, वह जो काम बताएंगे उन्हें किया जाएगा।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button